नई पोस्ट करें

दिल्ली में खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, नाइट कर्फ्यू में एक घंटे की कमी, जानें DDMA की बैठक में क्या हुआ फैसला

2022-10-07 00:10:40 475

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाPitru Paksha 2021: श्राद्ध के समय ध्यान रखें ये खास बातें, बना रहेगा पितरों का आशीर्वाद******भाद्रपद शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से सोलह दिवसीय श्राद्ध प्रारंभ होते हैं, इसलिए श्राद्ध आज से शुरू हो रहे हैं और आश्विन महीने की अमावस्या को यानि 6 अक्टूबर, दिन बुधवार को समाप्त होंगे | श्राद्ध को महालय या पितृपक्ष के नाम से भी जाना जाता है |माना जाता है इस दौरान कर अपने पितरों को मृत्यु च्रक से मुक्त कर उन्हें मोक्ष प्राप्त करने में मदद करता है। आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए श्राद्ध के दौरान किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलामोहम्मद हफीज के कोविड-19 टेस्ट की रिपोर्ट पर भारत के पूर्व ओपनर बल्लेबाज ने कसा तंज******पॉजिटिव, निगेटिव और पॉजिटिव , मोहम्मद हफीज की कोरोना वायरस जांच की गुत्थी सुलझने का नाम नहीं ले रही जबकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड क्वारंटीन प्रोटोकॉल तोड़ने के लिये उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है। हफीज को बोर्ड द्वारा कराये गए पहले दौर के टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया था।हफीज के कोविड-19 रिपोर्ट को लेकर पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने भी पीसीबी पर तंज कसा है। आकाश ने अपने सोशल मीडिया पर लिखा, ''कनफ्यूजन का दूसरा नाम हो गई पीसीबी, इन्होंने इसे एक नए स्तर पर पहुंचा दिया है। 72 घंटे में तीन बार अगल-अलग तरह की रिपोर्ट।''आपको बता दें कि रविवार को इंग्लैंड दौरे पर रवाना हो रहे 29 खिलाड़ियों का टेस्ट कराया गया था। हफीज के अलावा नौ खिलाड़ियों और एक अधिकारी का नतीजा पॉजिटिव आया था।अगले ही दिन हफीज ने एक ट्वीट में निजी चिकित्सा केंद्र की रिपोर्ट पोस्ट की जिसमें नतीजा निगेटिव था । बोर्ड पृथकवास में रहने से हफीज के इनकार से पहले ही खफा है ।बोर्ड के सूत्रों के अनुसार शौकत खानम अस्पताल में हफीज का फिर से टेस्ट हुआ जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है । बोर्ड ने कहा कि वह सभी टेस्ट के नतीजे शनिवार को बतायेगा ।सूत्र के अनुसार हफीज अगर पॉजिटिव पाया जाता है तो बोर्ड उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई कर सकता है क्योंकि उसने पृथकवास में जाने की बजाय दूसरा टेस्ट कराया ।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाYoga For Diabetes: कहीं आप भी तो नहीं प्री डायबिटिक? स्वामी रामदेव से जानिए मीठे जहर से बचने के उपाय******पूरा देश बप्पा की भक्ति में डूब हुआ है। क्योंकि आज से गणेश चतुर्थी का सेलिब्रेशन शुरू हो गया है जो अगले 9 दिन तक धूमधाम से चलेगा। इस गणेश चतुर्थी से त्यौहारों के सीज़न भी शुरू हो गया है। क्योंकि गणेश उत्सव के बाद नवरात्र, दशहरा, दिवाली, गोवर्धन पूजा, भाई दूज सब आने वाले हैं। यही फेस्टिवल्स शुगर पेशेंट्स की मुश्किल बढ़ाने वाले हैं... जिनका मन तो काफी ललचाता है.. लेकिन चाहकर भी वो मिठाई का स्वाद नहीं ले पाते हैं।डायबिटिक्स तो फिर भी सावधान रहते हैं। असली खतरा प्री डायबिटिक्स को होता है, जिन्हें मालूम ही नहीं होता कि वो शुगर पेशेंट बनने से सिर्फ एक कदम दूर खड़े हैं। लेकिन अगर वक्त रहते शुगर लेवल कंट्रोल कर लिया जाए तो वो डायबिटीज़ नाम के इस slow poison से भी बचेंगे और इससे होने वाली तमाम बीमारियों से दूर रहेंगे। शुगर बढने से आंख, लिवर, किडनी, बोन्स तो खराब होती ही हैं, एक नई स्टडी में खुलासा हुआ है कि हार्ट अटैक की तीन सबसे बड़ी वजह में से एक डायबिटीज़ है।ऐसे ही 100 खतरों को देखते हुए ICMR ने सबसे लंबी स्टडी में शरीर में ग्लूकोज़ कंट्रोल करने का फॉर्मूला तैयार किया है। रिसर्च के मुताबिक रोजाना अगर डाइट में 20% प्रोटीन, 50 से 55% कार्बोहाइड्रेट और 30% से कम फैट को शामिल करें तो बॉडी में शुगर को बैलेंस किया जा सकता है।एक ताज़ा स्टडी ये भी कहती है कि खाना खाने के बाद महज़ 2 से 5 मिनट की वॉक भी डायबिटीज़ का खतरा कम करती है। आयरलैंड यूनिवर्सिटी की रिसर्च बताती है कि ये वॉक खाना खाने के एक से डेढ़ घंटे के बीच कर लेनी चाहिए। क्योंकि खाना खाने के तुरंत बाद ब्लड शुगर लेवल हाई लेवल पर होता है। लेकिन कुछ मिनट की वॉक से ये तेज़ी से घटकर नॉर्मल हो जाता है। वैसे ये सारी स्टडीज़ तो डायबिटीज़ कंट्रोल करने के लिए हैं। लेकिन आज हम स्वामी रामदेव से योग-आयुर्वेद की ताकत से डायबिटीज़ कंट्रोल नहीं पूरी तरह से क्योर करने का उपाय जानने वाले हैं।देश के डॉक्टरों ने डायबीटीज पर चलने वाले सबसे लंबी स्टडी के बाद मधुमेह की बीमारी को काबू में रखने और उससे निजात पाने के लिए नया फॉर्म्युला ईजाद किया है, जिससे रोजाना कैलोरी की जरूरत को पूरा करने के लिए अगर भोजन में 20 फीसदी प्रोटीन, 50-56 फीसदी कार्बोहाइड्रेट और 30 फीसदी से कम फैट को शामिल हो तो डायबीटीज पर नियंत्रण रखा जा सकता है और इससे छुटकारा भी पाया जा सकता है। 'प्रारंभिक स्टेज में टाइप टु डायबीटीज पर जीवन शैली में बदलाव के अलावा भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा घटाकर और प्रोटीन की मात्र बढ़ाकर लगाम लगाई जा सकती है।डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी बीमारी है जिसे 'Slow poison' के नाम से भी जाना जाता है क्‍योंकि यह धीरे-धीरे बॉडी पर नेगेटिव इफेक्‍ट डालता जाता है और शरीर के बाकी अंग भी इसकी चपेट में आकर ठीक से काम करना बंद कर देते हैं ऐसे में मरीज एक साथ कई बीमारियों से घिर जाता है। इसलिए जरूरी है कि हम सही समय पर सही कदम उठाकर इसे अपने काबू में रखें।अगर 4 P का ध्यान रखा जाए तो प्रीडायबिटिक लोग शुगर पेशेंट बनने से बच सकते हैं। ये चार पी हैं...खाने से पहले 100 से कम खाने के बाद 140 से कम खाने से पहले 100-125 mg/dlखाने के बाद 140-199 mg/dlखाने से पहले 125 से ज्यादा mg/dlखाने के बाद 200 से ज्यादा mg/dlWHO की गाइडलाइन: 1 दिन में 5 ग्राम से ज्यादा चीनी ना खाएं, 5 ग्राम यानि 1 चम्मच, रिसर्च के अनुसार लोग 3 गुना ज्यादा चीनी खाते हैं।

दिल्ली में खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, नाइट कर्फ्यू में एक घंटे की कमी, जानें DDMA की बैठक में क्या हुआ फैसला

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाTokyo Olympics 2020 : ‘वेलकम टू द क्लब’, ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली लवलीना को वीजेंद्र और मैरी कॉम ने दी बधाई******भारतीय मुक्केबाजी के स्टार विजेंदर सिंह और छह बार की विश्व चैम्पियन एम सी मैरीकॉम ने लवलीना बोरगोहेन के शुक्रवार को तोक्यो खेलों में ओलंपिक पदक पक्का करने के बाद कहा, ‘वेलकम टू द क्लब’। विजेंदर ने 2008 में देश को पहला ओलंपिक पदक दिलाया था जिसके बाद मैरीकॉम 2012 लंदन चरण में पोडियम स्थान हासिल करने वाली पहली महिला मुक्केबाज बनी थीं। अब ये दोनों उम्मीद कर रहे हैं कि लवलीना तोक्यो में उनसे बेहतर प्रदर्शन करे।ओलंपिक पदक दिलाने वाले भारत के पहले पुरूष मुक्केबाज विजेंदर ने पीटीआई से लवलीना की टोक्यो में क्वार्टरफाइनल जीत के बारे में पूछने पर कहा, ‘‘वेलकम टू द क्लब (क्लब में आपका स्वागत है)। ’’ लवलीना ने चीनी ताइपे की पूर्व विश्व चैम्पियन निएन चिन चेन को 4 - 1 से हराकर अंतिम चार चरण में क्वालीफाई किया जहां उनका सामना तुर्की की मौजूदा विश्व चैम्पियन बुसेनाज सुरमेनेली से होगा।मैरीकॉम ने टोक्यो से कहा, ‘‘हम इस पदक का इंतजार कर रहे थे, हर किसी ने इतनी मेहनत की है। मैं उसके लिये बहुत खुश हूं। ’’ विजेंदर (35 वर्ष) लवलीना की तकनीकी रणनीति से काफी प्रभावित दिखे जिसने उन्हें एमेच्योर सर्किट पर अपना अभियान याद दिला दिया।उन्होंने कहा, ‘‘कितनी बढ़िया बाउट थी। उसकी योजना काबिले तारीफ थी। उसने दाहिने हाथ का इतना प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया, जिससे मुझे एमेच्योर सर्किट पर अपने दिन याद आ गये। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसे अगले दौर में कड़ी प्रतिद्वंद्वी से भिड़ना है लेकिन इस रणनीति के साथ वह निश्चित रूप से उसे हरा सकती है। ’’मैरीकॉम ने कहा, ‘‘वह हमेशा ही कम चर्चित लड़की रही है। यह पदक उसके लिये जश्न का मौका है। ’’ भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के अध्यक्ष अजय सिंह ने लवलीना की परेशानियों का जिक्र करते हुए कहा कि वे इस क्षण का इंतजार कर रहे थे।उन्होंने कहा, ‘‘हम इस खबर को सुनने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। यह सिर्फ मुक्केबाजी के लिये ही नहीं बल्कि असम और पूरे देश के लिये गौरव का क्षण है। लवलीना का यह बहुत ही साहसिक प्रयास है, निश्चित रूप से। ’’उन्होंने कहा, ‘‘वह पिछले साल कोविड-19 संक्रमित हो गयी थी और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसकी मां भी किडनी की बीमारी से जूझ रही थी। लेकिन वह जन्म से ही ‘फाइटर’ है। भारतीय मुक्केबाजी के लिये यह बड़ा मील का पत्थर है और जिस तरह से इस युवा लड़की ने खुद को साबित किया है, उससे हम सभी गर्व महसूस कर रहे हैं। ’’दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाIPL 2022 MI vs PBKS Preview: मुंबई इंडियंस के लिए होगी पंजाब किंग्स के खिलाफ जीत का खाता खोलने की चुनौती******Highlightsआईपीएल 2022 में शुरुआती चार मैच हारने के बाद मुश्किलों का सामना कर रही मुंबई इंडियंसकी टीम बुधवार को पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम मेंपंजाब किंग्स के खिलाफ जीत का खाता खोलने के लक्ष्य के साथ उतरेगी। धीमी शुरुआत से शिखर तकजाने के लिए मशहूर पांच बार की चैंपियन मुंबईकी मौजूदा सत्र में शुरुआत बुरे सपने जैसी रही है और टीम अपने पहले चार मुकाबले गंवा चुकी है। मुंबई की टीम मौजूदा सत्र में अपने पुराने प्रदर्शन को दोहराने में बुरी तरह नाकाम रही है और अगर अपने अभियान को पटरी पर लाना है तो टीम को कई चीजों में सुधार करने की जरूरत है।टीम के बल्लेबाज बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रहे हैं जबकि गेंदबाज भी अब तक उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं जिससे टीम की मुसीबत बढ़ गई है। मुंबई की वापसी की राह काफी मुश्किल नजर आ रही हैं क्योंकि वह 10 टीम की तालिका में नौवें स्थान पर चल रही है लेकिन कप्तान रोहित शर्मा टीम ही नहीं बल्कि अपने प्रदर्शन में भी सुधार करना चाहेंगे। रोहित फ्रेंचाइजी के लिए उस तरह का प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं जिसके लिए वह जाने जाते हैं और उन्हें अगर टीम के अभियान को पटरी पर लाना है तो आगे बढ़कर अगुआई करनी होगी और अपने संयोजन को सही रखना होगा।पंजाब की टीम दो जीत और इतनी ही हार के साथ अंक तालिका में सातवें स्थान पर चल रही है और गुजरात टाइटंस के खिलाफ पिछले मैच में मिली हार के बाद टीम की नजरें जीत की राह पर लौटने पर टिकी होंगी। मुंबई के लिए शीर्ष क्रम में रोहित काफी महत्वपूर्ण हैं लेकिन उनके सलामी जोड़ीदार इशान किशन, सूर्यकुमार यादव और तिलक वर्मा को भी बल्लेबाजी में अधिक जिम्मेदारी लेनी होगी जिससे कि टीम के लिए देर ना हो जाए। लंबे शॉट खेलने की क्षमता रखने वाले डेवाल्ड ब्रेविस भी अब तक उम्मीद के मुताबिक नहीं खेल पाए हैं। टीम प्रबंधन को उम्मीद होगी कि बल्लेबाजी इकाई एकजुट होकर योगदान देने में सफल रहेगी।अगर टीम को बड़ा स्कोर खड़ा करना है या लक्ष्य को हासिल करना है तो शीर्ष तीन में से एक बल्लेबाज को बड़ी पारी खेलनी होगी। मुंबई के लिए सबसे कमजोर पहलू अनुभवी आलराउंडर कीरोन पोलार्ड का प्रदर्शन रहा है। अकेले दम पर मैच का रुख पलटने की क्षमता रखने वाले पोलार्ड अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आसपास भी नहीं पहुंच पा रहे और वेस्टइंडीज के इस बल्लेबाज को आगामी मुकाबलों में लय हासिल करने की उम्मीद होगी। मुंबई को हालांकि पंजाब के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण का सामना करना होगा जिसकी अगुआई कागिसो रबाडा कर रहे हैं और टीम में राहुल चाहर, वैभव अरोड़ा और अर्शदीप सिंह जैसे गेंदबाज भी हैं।जसप्रीत बुमराह समेत मुंबई के अन्य गेंदबाजों में मौजूदा सत्र में वह पैनापन नजर नहीं आया है जिसके लिए वहजाने जाते हैं। लेग स्पिनर मुरुगन अश्विन, बासिल थंपी और जयदेव उनादकट की मौजूदगी वाले आक्रमण को बुमराह का साथ देना होगा जो तेज गेंदबाजी में अपना जादू दोहराने की कोशिश करेंगे। मुंबई को अगर जीत दर्ज करनी है तो इन तीनों के 12 ओवर महत्वपूर्ण होंगे। मुंबई को ऐसी टीम से भिड़ना है जिसके पास शिखर धवन, लियाम लिविंगस्टोन और एम शाहरूख खान जैसे बड़े शॉट खेलने में सक्षम खिलाड़ी हैं।: रोहित शर्मा (कप्तान), अनमोलप्रीत सिंह, राहुल बुद्धि, रमनदीप सिंह, सूर्यकुमार यादव, तिलक वर्मा, टिम डेविड, अर्जुन तेंदुलकर, बासिल थम्पी, ऋतिक शौकीन, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, जोफ्रा आर्चर, मयंक मार्कंडेय, मुरुगन अश्विन, रिले मेरेडिथ, टाइमल मिल्स, अरशद खान, डेनियल सैम्स, डेवाल्ड ब्रेविस, फैबियन एलेन, कीरोन पोलार्ड, संजय यादव, आर्यन जुयाल और इशान किशन।: शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, अर्शदीप सिंह, कागिसो रबाडा, जॉनी बेयरस्टो, राहुल चाहर, हरप्रीत बरार, एम शाहरुख खान, प्रभसिमरन सिंह, जितेश शर्मा, इशान पोरेल, लियाम लिविंगस्टोन, ओडियन स्मिथ, संदीप शर्मा, राज अंगद बावा, ऋषि धवन, प्रेरक मांकड़, वैभव अरोड़ा, रितिक चटर्जी, बलतेज ढांडा, अंश पटेल, नाथन एलिस, अथर्व ताइडे, भानुका राजपक्षे और बेनी हॉवेल।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाटूट की कगार पर मायावती की पार्टी, निलंबित बीएसपी विधायकों ने उठाया यह कदम******उत्तर प्रदेश में विधानासभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) में विद्रोह हो गया है। विधानसभा का बजट सत्र शुरू होते ही बीएसपी के कुल 15 विधायकों में से 9 बागी विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष ह्रदयनारायण दीक्षित से मुलाकात कर विधानसभा सदन में अलग से बैठने की मांग की है। इसपर विधानसभा अध्यक्ष ने उनसे कहा कि वे जहां पहले से बैठते रहे हैं, वहीं बैठें। इसके बाद बागी विधायक बीएसपी खेमे में जाकर बैठें। मगर बीएसपी में दो-फाड़ होने का खतरा गहराता जा रहा है। बीएसपी के 9 विधायकों के बागी हो जाने के बाद अब पार्टी के पास मात्र 9 विधायकों की संख्या बची है।बीएसपी सुप्रीमो ने बगावत करने वाले सातों विधायकों- असलम राइनी (भिनगा-श्रावस्ती), चौधरी असलम अली (धौलाना-हापुड़), मो. मुज्तबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-प्रयागराज), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज), डॉ. हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), सुषमा पटेल (मुंगरा बादशाहपुर जौनपुर) और वंदना सिंह (सगड़ी-आजमगढ़) को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते निलबिंत कर दिया है। इन विधयकों को बुधवार को बीएसपी विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाया गया था इसीलिए इन सातों विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष से मुलाकात कर सदन में अलग से बैठने की मांग की।दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राज्यपाल का अभिभाषण शुरू होने से पहले भिगना के विधायक असलम राइनी, धौलाना के असलम चौधरी, सिधौली के हरगोविंद भार्गव और प्रतापपुर के विधायक मुज्तबा सिद्दीकी ने विधानसभा अध्यक्ष दीक्षित से उनके कक्ष में मुलाकात की। विधायकों का कहना था कि बीएसपी से उनको निलंबित किया गया है, इसलिए सदन में उनके बैठने की अलग व्यवस्था की जाए। दीक्षित ने निलंबन की विधिवत जानकारी बीएसपी की ओर से न मिलने की बात कही। उन्होंने कहा कि अलग बैठने की व्यवस्था करने की यह ठोस वजह नहीं है, इसलिए पुरानी व्यवस्था के अनुसार ही बैठें।अलग बैठने की सीट मांगने पर सफाई देते हुए विधायक असलम राइनी ने आरोप लगाया कि बीएसपी महासचिव सतीश मिश्र पार्टी को खत्म करने पर तुले हैं। एक-एक कर पुराने कार्यकर्ताओं को बाहर किया जा रहा है। मिश्र के इशारे पर ही उनको विधायकों की बैठक में भी नहीं बुलाया गया। उधर, बीएसपी विधानमंडल दल नेता लालजी वर्मा ने कहा कि निलंबन या निष्कासित करने का फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ही करती हैं। उनको इस बारे में अधिक कुछ नहीं कहना है।

दिल्ली में खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, नाइट कर्फ्यू में एक घंटे की कमी, जानें DDMA की बैठक में क्या हुआ फैसला

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाInfinix ने फास्ट एंड फन स्मार्टफोन अनुभव के लिए लॉन्च किया HOT 11 स्मार्टफोन, जानिए कीमत******Infinixस्मार्टफोन कंपनी Infinix ने भारतीय बाजार में अपना नया स्मार्टफोन उतार दिया है। कंपनी ने यह फोन Infinix Hot 11 2022 नाम से लॉन्च किया है। चीन के Transsion Group ग्रुप की कंपनी ने शुक्रवार को स्मार्टफोन की लॉन्चिंग के वक्त इसकी कीमत का भी खुलासा कर दिया है। Infinix Hot 11 2022 के 4GB RAM और 64GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 8,999 रुपये है।इस स्मार्टफोन में आपको होल-पंच डिस्प्ले डिजाइन और ड्यूल रियर कैमरा देखने को मिलेंगे। ऑक्टा कोर Unisoc पर चलने वाला Hot 11 2022 यूजर्स को 64GB स्टोरोज प्रदान करता है। कलर ऑप्शन की बात करें तो यह स्मार्टफोन Aurora Green, Polar Black और Sunset Gold कलर्स में उपलब्ध है। यह स्मार्टफोन 22 अप्रैल से Flipkart पर बिक्री के लिए उपलब्ध होगा।Infinix के इस लेटेस्ट स्मार्टफोन Hot 11 2022 में 6.7 इंच की फुल HD+ IPS डिस्प्ले दी गई है, जिसका रेजोल्यूशन 1080x2400 पिक्सल है। ऑपरेटिंग सिस्टम की बात करें तो यह स्मार्टफोन Android 11 पर बेस्ड XOS 7.6 पर काम करता है। स्मार्टफोन में ऑक्टा कोर Unisoc T610 SoC प्रोसेसर दिया गया है। साथ ही 4GB RAM और 64GB इंटरनल स्टोरेज दी गई है। आप माइक्रोएसडी कार्ड की मदद से इसकी स्टोरेज 1टीबी तक बढ़ा सकते हैं।कैमरा सेटअप की बात करें तो इस स्मार्टफोन में 13 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा और 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर दिया गया है। वहीं सेल्फी के लिए इस स्मार्टफोन में 8 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है। बैटरी बैकअप की बात करें तो इस स्मार्टफोन में 5000mAh की बैटरी दी गई है जो कि 10W चार्जिंग को सपोर्ट करती है।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाSFIO ने शुरू की CG Power और अन्‍य 15 कंपनियों के खिलाफ जांच, कंपनी संचालन व वित्तीय गड़बड़ी के हैं आरोप******SFIO begins probe against CG Power and Industrial Solutions गंभीर अपराध अन्वेषण कार्यालय (एसएफआईओ) ने सीजी पावर एंड इंडस्ट्रियल सॉल्यूशंस लिमिटेड तथा समूह की 15 अन्य कंपनियों के खिलाफ कथित अनियमितता की जांच शुरू की है। सीजी पावर ने बीएसई को बुधवार को बताया कि कंपनी को कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के एसएफआईओ के संयुक्त निदेशक (जांच) का एक पत्र मिला है। उसमें बताया गया है कि केंद्र सरकार ने एसएफआईओ कंपनी तथा समूह की 15 अन्य कंपनियों के मामले की जांच का आदेश दिया है। उक्त जांच शुरू हो गयी है। कंपनी ने कहा कि वह जांच में एसएफआईओ के साथ सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। उल्लेखनीय है कि सीजी पावर तथा समूह की अन्य कंपनियां कंपनी संचालन व वित्तीय गड़बड़ी के आरोपों से जूझ रही हैं। कंपनी ने अगस्त में कहा था कि निदेशक मंडल की जांच में कंपनी संचालन व वित्तीय गड़बड़ी का पता चला है।सूत्रों ने इससे पहले बताया था कि कंपनी मामलों के मंत्रालय ने एनसीएलटी की मुंबई पीठ के समक्ष याचिका दायर कर सीजी पावर और इसकी सहयोगी इकाइयों के 2014-15 से पांच सालों के वित्‍तीय परिणामों की समीक्षा करने और एकाउंट्स बुक को दोबारा खोलने की अनुमति मांगी है।कंपनी ने अगस्‍त में कहा था कि उसके बोर्ड द्वारा की गई जांच में गंभीर कंपनी संचालन और वित्‍तीय गड़बड़‍ियां पाई गई हैं। कंपनी की कुछ संपत्तियों को बंधक बनाकर ऋण लिया गया और उस धन को कंपनी के कार्यकारियों के खाते में हस्‍तांतरित किया गया। कंपनी के गैर-कार्यकारी चेयरमैन गौतम थापर को 29 अगस्‍त को बोर्ड से बाहर कर दिया गया।

दिल्ली में खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, नाइट कर्फ्यू में एक घंटे की कमी, जानें DDMA की बैठक में क्या हुआ फैसला

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाWeekly Horoscope 25 July-31 July 2022: सावन में मेष राशि वालों को लापरवाही पड़ेगी महंगी, इन 2 राशियों की खुलेगी किस्मत******25 जुलाई 2022 से नया सप्ताह शुरू होने जा रहा है और ये नया सप्ताह आपके लिए कैसा रहेगा, किन उपायों से आप इसे बेहतर कर सकते हैं, इन सबकी जानकारी हम आपको देंगे। कुछ राशियों के लिए जहां ये सप्ताह सौगात लेकर आएगा वहीं कुछ राशियां ऐसी हैं जिनके लिए ये सप्ताह खास नहीं रहेगा। ज्योतिषी चिराग बेजान दारूवाला से जानते हैं राशि के अनुसार कैसा रहेगामेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि के लिए कैसा रहेगा?गणेशजी कहते हैं कि इस सप्ताह सामाजिक सीमाएं बढ़ेंगी। दूसरों की परेशानी में मदद करने से आपको आध्यात्मिक खुशी मिल सकती है। घर में नई चीजें खरीदना संभव है। संतान की कोई सकारात्मक गतिविधि आपको प्रसन्नता का अनुभव कराएगी। इस समय कोई भी अनावश्यक यात्रा करने से पहले सावधानी बरतें। ध्यान रहे कि थोड़ी सी लापरवाही आपको लक्ष्य से भटका सकती है। इस समय अचानक हुए खर्च से आप परेशान रहेंगे। व्यापार क्षेत्र से जुड़ी कोई योजना काम आएगी। पति-पत्नी के बीच तालमेल में कुछ खामियां रह सकती हैं। स्वास्थ्य उत्तम रह सकता है।गणेशजी कहते हैं कि इस सप्ताह का अधिकांश समय आपकी व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों को पूरा करने में व्यतीत होगा। कुछ पारिवारिक विवाद सुलझने से घर में सुकून और शांति का माहौल बनेगा। सामाजिक गतिविधियों में आपकी प्रतिभा आपके अच्छेव्यक्तित्व और लेन-देन के कौशल के कारण काम आएगी। किसी अजनबी पर विश्वास करना आपके लिए हानिकारक होगा। कुछ समय बच्चों की समस्या को सुनने और उनके समाधान के लिए भी निकालें। जमीन बेचने से बचें। इस समय भाइयों का सहयोग आपके काम को और आगे बढ़ाएगा। छोटी-छोटी बातों को लेकर पति-पत्नी के संबंधों में तनाव रहेगा। सावधान रहें कि घर से बाहर न निकलें। सर्दी-बुखार की शिकायत हो सकती है, जिससे आप अपनी गतिविधियों पर ठीक से ध्यान नहीं दे पाएंगे।गणेशजी कहते हैं कि आपका धैर्य और संयम आपको अपनी कार्य नीति बनाए रखने में मदद करेगा। बच्चों के प्रवेश से जुड़ी कोई भी समस्या दूर होगी। कुछ समय धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में बिताने से आपको मानसिक शांति मिलेगी। कभी-कभी आलस्यके कारण आप अपने काम से बचने की कोशिश करेंगे। अपने कार्यों को समय पर पूरा करने का प्रयास करें। यदि आपको कोई निर्णय लेने में कठिनाई हो तो किसी अनुभवी व्यक्ति से सलाह लें। इस समय वर्तमान व्यवसायों पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। परिवार के साथ भी कुछ समय बिताएं। स्वास्थ्य अच्छा रह सकता है।गणेशजी कहते हैं कि आपकी दृढ़ इच्छाशक्ति और आत्मविश्वास से कई महत्वपूर्ण कार्य पूरे हो सकते हैं। मेहनत अधिक होगी लेकिन सफलता भी मिलेगी। आप अपनी सूझबूझ और समझ से कई कठिन कामों से बाहर आ सकते हैं। युवा वर्ग अपने लक्ष्य को लेकर चिंतित रहेगा। इस बार उन्हें कुछ बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। कुछ समय एकांत में या आध्यात्मिक स्थान पर बिताएं। निवेश योजनाओं से बचना बेहतर है। आप कार्यस्थल में उचित व्यवस्था बनाए रखने पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। विवाह सुखपूर्वक चल सकता है। सेहत थोड़ी नरम रह सकती है।गणेश कहते हैं कि अपने कार्यों को व्यावहारिक रूप से करें। इस समय भावनाओं में न फंसें। रुपया कहीं फंसा हुआ है तो उसके वापस मिलने की पूरी उम्मीद है। घर के रख-रखाव के कार्यों में भी उचित समय व्यतीत होगा। पुरानी नकारात्मक बातों को अपने ऊपर हावी न होने दें। कुछ समय आत्म-प्रतिबिंब और आत्म-प्रतिबिंब में बिताएं। क्रोध और जल्दबाजी जैसे दोषों को दूर करने की आवश्यकता है। व्यावसायिक गतिविधियों में इस समय थोड़ा सुधार होगा। पारिवारिक माहौल खुशनुमा रहेगा। हल्के मौसमी स्वास्थ्य की समस्या हो सकती है।गणेशजी कहते हैं कि इस समय अपनी कोई भी योजना शुरू करने से पहले पुनर्विचार करना जरूरी है। यह आपको अपनी कमियों को दूर करने और सही परिणाम प्राप्त करने की अनुमति देगा। भाग्य के बजाय कर्म पर विश्वास करें। किसी नजदीकी रिश्तेदार से मामूली विवाद हो सकता है। समझदारी से समस्या का समाधान निकालने का प्रयास करें। घर के बड़े सदस्यों के स्वास्थ्य की उपेक्षा न करें। व्यापार व्यवस्था में सुधार की जरूरत है। समस्याओं के समाधान में जीवनसाथी और रिश्तेदारों का पूरा सहयोग मिलेगा। इस समय आपको पेट दर्द और भूख न लगना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।गणेश कहते हैं कि इस समय कुछ चुनौतियाँ होंगी। उन्हें स्वीकार करें, आपको निश्चित सफलता मिलेगी। अपने सिद्धांतों पर अडिग रहने से समाज में आपका मान-सम्मान भी बढ़ेगा। घर में किसी भी समस्या का समाधान करने का यह सही समय है। ईर्ष्यालु कुछ लोग आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। तो सावधान रहें। दूसरों की सलाह गलत साबित हो सकती है। इसलिए अपनी क्षमता पर विश्वास करें। अपने किसी प्रोजेक्ट के विफल होने से छात्र निराश होंगे। कार्यक्षेत्र में मेहनत अधिक हो सकती है। इस समय कहीं भी पैसा निवेश न करें। परिवार में किसी बात को लेकर तनाव रहेगा। वाहन का उपयोग भी सावधानी से करने की आवश्यकता है।गणेशजी कहते हैं कि इस समय कोई भी मनोवांछित कार्य पूर्ण होने से मन को अधिक शांति और प्रसन्नता मिल सकती है। इस समय आपके भाग्य में ग्रहों की स्थिति हावी है। कोई अच्छी खबर मिलने से आपका आत्मविश्वास और ऊर्जा बढ़ सकती है। अपने अहंकार और क्रोध पर नियंत्रण रखना जरूरी है। हालांकि किसी करीबी से आर्थिक नुकसान होने की भी संभावना है। साझेदारी से जुड़े कारोबार में तालमेल बनाए रखें। पति-पत्नी के संबंधों में मधुरता आ सकती है। योग और व्यायाम पर अधिक ध्यान दें।गणेशजी कहते हैं कि निजी संबंध और घनिष्ठ होंगे। बड़ों की सलाह मानने से आपको सही मार्गदर्शन पाने में मदद मिलेगी। मन के अनुसार गतिविधियों में निवेश करने से मन प्रसन्न रहेगा। पड़ोसियों के साथ चल रहा कलह भी दूर होगा। ध्यान रखें कि अगर आप दूसरों से सम्मान पाना चाहते हैं तो आपको उनका भी सम्मान करना होगा। किसी अप्रिय घटना की संभावना मन में भय और तनाव पैदा कर सकती है। विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है। आज किसी नए काम में समय न लगाएं। पति-पत्नी एक-दूसरे के साथ उचित तालमेल बनाए रखेंगे। हल्के मौसमी रोग हो सकते हैं।गणेश कहते हैं कि इस समय परिवार से जुड़े किसी गंभीर मुद्दे पर चर्चा होगी। परिणाम भी सकारात्मक रहेगा। करीबी रिश्तेदारों के साथ भावनात्मक संबंध मजबूत होंगे। छात्र वर्ग को अपनी किसी भी परियोजना को पूरा करने पर गर्व होगा। माता-पिता अपने बच्चों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध बनाए रखते हैं। अत्यधिक नियंत्रण उन्हें और अधिक जिद्दी बना सकता है। युवा प्यार के लिए करियर से समझौता न करें।किसी बाहरी व्यक्ति को घर के मामलों में दखल न देने दें। अत्यधिक काम के बोझ से पैरों में दर्द और सूजन हो सकती है।गणेशजी कहते हैं कि इस सप्ताह बातचीत से विवाद सुलझ जाएगा। किसी शुभचिंतक की प्रेरणा और आशीर्वाद आपके लिए वरदान साबित होगा। संतान की ओर से भी कोई शुभ समाचार मिल सकता है। खर्चा ज्यादा होगा। किसी और के निजी मामले मांगे बिना सलाह न दें, नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है। किसी करीबी की मदद करने से पहले अपने बजट पर भी विचार करना चाहिए। यदि आप व्यापार बढ़ाने के लिए किसी के साथ साझेदारी करने की योजना बना रहे हैं तो आपका निर्णय सकारात्मक रहेगा। परिवार के सदस्यों के बीच सहयोग और समन्वय ठीक से बना रहेगा। सेहत ठीक रह सकती है।गणेशजी कहते हैं कि समझदारी से निर्णय लेने और अधिकांश काम करने की कोशिश करने से आपको सफलता मिलेगी। अटका रुपया टुकड़ों में मिल सकता है। मुसीबत के समय किसी बड़े की मदद आपके बहुत काम आएगी। कभी-कभी मन में एक नकारात्मक विचार उठता है और आप अपने लक्ष्य से भटक सकते हैं। ऐसे में बच्चों का पढ़ाई से ध्यान भी भटक सकता है। अवैध गतिविधियों में रुचि न लें। कार्यक्षेत्र में आपको अधिक प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ सकता है। पति-पत्नी के संबंध मधुर हो सकते हैं। स्वास्थ्य ठीक रहेगा।

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाMP News: BJP सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने किया हैरान कर देने वाला दावा, जानकर रह जाएंगे दंग; पढ़ें डिटेल******Highlightsभोपाल से लोकसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने दावा किया है कि अवैध शराब के धंधे में लिप्त अपने रिश्तेदारों को पुलिस हिरासत से छुड़ाने के लिए माता-पिता अपनी बेटियों को “बेच” रहे हैं। ठाकुर की कथित टिप्पणियों का एक वीडियो सामने आने के बाद, मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कांग्रेस के गोविंद सिंह ने कहा कि यह चौंकाने वाला और चिंता का विषय है कि राज्य की राजधानी में अवैध शराब का कारोबार फल-फूल रहा है।गौरतलब है कि ठाकुर ने 17 सितंबर को भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के एक समारोह को संबोधित करते हुए ये टिप्पणी की थी। समारोह में उन्होंने अपने द्वारा गोद लिए गए गांवों और बस्तियों के बच्चों को ड्राइंग बुक और स्टेशनरी का सामान देने के लिए उद्योग निकाय को धन्यवाद दिया था।ठाकुर ने कहा, “मैंने कुछ बस्तियों को गोद लिया है, जहां बच्चों के पास पढ़ाई के लिए संसाधन नहीं हैं। उनके माता-पिता के पास कमाई का कोई नियमित स्रोत नहीं है और वे अवैध शराब बनाने और बेचने में शामिल हैं। कभी-कभी पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर लेती है और उनके पास जमानत पाने के लिए पैसे नहीं होते हैं। वे अपने लोगों की रिहाई के लिए पैसे जुटाने के वास्ते 4 से 6 साल की लड़कियों को बेच देते हैं।”इसी बीच, नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह ने कहा कि ठाकुर के बयान से संकेत मिलता है कि राज्य की राजधानी में पुलिस के संरक्षण में अवैध शराब का कारोबार फल फूल रहा है। सिंह ने कहा कि सरकार को ठाकुर की टिप्पणियों के आधार पर कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि अवैध शराब कारोबार में शामिल लोगों की रिहाई के लिए पुलिस को रिश्वत देने की खातिर कथित तौर पर लड़कियों को बेचा जा रहा है।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाIND vs WI 3rd ODI Live Streaming: भारत-वेस्टइंडीज सीरीज का आखिरी मुकाबला आज, जानिए कब, कहां और कैसे देखें Live Match******Highlightsवेस्टइंडीज दौरे पर शिखर धवन की कप्तानी में टीम इंडिया ने तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले दो मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली है। भारत के पास 2-0 की अजेय बढ़त है। पहला वनडे भारत ने 3 रनों से जीता था तो दूसरे वनडे में 2 विकेट से टीम इंडिया को रोमांचक जीत मिली थी। अब तीसरे मुकाबले में टीम के पास क्लीन स्वीप कर इतिहास रचने का मौका है। इससे पहले भारत ने कभी वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्हीं के घर में क्लीन स्वीप नहीं किया है। अगर ऐसा हुआ तो शिखर धवन इस उपलब्धि को हासिल करने वाले पहले कप्तान भी बन जाएंगे।भारत और वेस्टइंडीज के बीच पहला वनडे 27 जुलाई यानी बुधवार को खेला जाएगा।दोनो टीमों के बीच यह मुकाबला त्रिनिदाद के पोर्ट ऑफ स्पेन स्थित क्वींस पार्क ओवल स्टेडियम में खेला जाएगा।भारत और वेस्टइंडीज के बीच इस मैच में टॉस भारतीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे होगा जबकि पहली गेंद शाम के सात बजे डाली जाएगी।भारत और वेस्टइंडीज सीरीज के प्रसारण का अधिकार डीडी स्पोर्ट्स के पास है। इसलिए इस मैच का प्रसारण डीडी स्पोर्ट्स पर किया जाएगा।भारत और वेस्टइंडीज सीरीज के सभी मैच की लाइव-स्ट्रीमिंग भारत में फैनकोड (Fancode) डॉट कॉम पर देखी जा सकती है। इसके अलावा मैच से जुड़ी खबरें और रिकॉर्ड्स पर भी पढ़ सकते हैं।: शिखर धवन (कप्तान), रुतुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, दीपक हुड्डा, सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर, ईशान किशन (विकेटकीपर), संजू सैमसन (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा (पहले दो वनडे से बाहर), शार्दुल ठाकुर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, अवेश खान, प्रसिद्ध कृष्णा, मोहम्मद सिराज और अर्शदीप सिंह।: निकोलस पूरण (कप्तान), शाई होप (उप-कप्तान), शमार ब्रूक्स, कीसी कार्टी, जेसन होल्डर, अकील हुसैन, अल्जारी जोसेफ, ब्रैंडन किंग, काइल मेयर्स, गुडकेश मोती, कीमो पॉल, रोवमैन पॉवेल और जेडन सील्स।

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलातालिबान ने की अफगान शहर पर कब्जे की नाकाम कोशिश, 28 आतंकी हुए ढेर******अफगानिस्तान के सुरक्षा बलों ने तखर प्रांत की राजधानी तालुकान शहर पर तालिबान के हमले को नाकाम कर दिया है। एक अधिकारी द्वारा मंगलवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, सरकारी सुरक्षा बलों ने भीषण लड़ाई में 28 आतंकवादियों को मार गिराया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, तालिबान आतंकवादी तालुकान शहर में अलग-अलग दिशाओं से हमला करने की योजना बना रहे थे, लेकिन लड़ाकू विमानों द्वारा समर्थित जमीनी सैनिकों ने आतंकवादियों को निशाना बनाया, जिससे वे पीछे हट गए। कार्रवाई के दौरान 28 पीड़ितों के अलावा तालिबान के 17 आतंकवादी घायल भी हुए।तालिबान कथित तौर पर तखर प्रांत के सभी 16 जिलों को नियंत्रित करता है और पिछले एक महीने से काबुल से 245 किलोमीटर उत्तर में स्थित तालुकान शहर पर कब्जा करने के लिए संघर्ष कर रहा है। तालिबान द्वारा कब्जे के डर से कई तखर निवासियों ने पिछले एक सप्ताह में काबुल में धरना दिया है और केंद्र सरकार से प्रांत में और सैनिकों को भेजने का आह्वान किया है। एक अन्य घटनाक्रम में, मंगलवार को बदख्शां प्रांत के कुरान-वो-मुंजन जिले में अफगान सैनिकों द्वारा तालिबान लड़ाकों के एक समूह पर घात लगाकर किए गए हमले में 4 विदेशियों सहित 9 आतंकवादियों के मारे जाने की पुष्टि हुई। बता दें कि बदख्शां प्रांत के 27 में से 19 जिलों पर तालिबान आतंकवादियों का कब्जा है।इस बीच संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि दक्षिण एशिया और मध्य एशिया में सक्रिय आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड लेवांत-खोरासन (ISIL-K) के नेता अमेरिका तथा अफगान के बीच हुए शांति समझौते को खारिज करने वाले तालिबान तथा अन्य आंतकवादियों को लुभाते दिख रहे हैं। इस रिपोर्ट में युद्ध ग्रस्त देश में पहले से ही अस्थिर सुरक्षा स्थिति के और बिगड़ने का खतरा होने पर चिंता जताई गई है। ISIL, अल-कायदा और उससे जुड़े लोगों तथा संगठनों से संबंधित एनालिटिकल सपोर्ट एंड सैंगशंज मॉनिटरिंग टीम की 28वीं रिपोर्ट में कहा गया है कि फिर से सिर उठाने की कोशिश में ISIL-K ने नए समर्थकों की भर्ती और प्रशिक्षण की प्रक्रिया को प्राथमिकता दी है।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलालोकसभा चुनाव 2019: चौथे चरण के मतदान की अधिसूचना जारी, 9 प्रदेशों की 71 सीटों पर शुरू हुई नामांकन प्रक्रिया****** ने के चौथे चरण में 29 अप्रैल को होने वाले के लिए मंगलवार को जारी कर दी। इस चरण में नौ राज्यों की 71 सीटों के लिए मतदान होना है। इस चरण में बिहार, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश सहित अन्य राज्यों की तमाम सीटों पर मतदान होगा।चौथे चरण में उत्तर प्रदेश और राजस्थान की 13-13 सीटों, बिहार की पांच और पश्चिम बंगाल की आठ, महाराष्ट्र की 17, मध्य प्रदेश और ओडिशा की छह-छह सीटों के लिए चुनाव होगा। इनमें जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग सीट भी शामिल है। इस सीट पर दो चरण में मतदान होगा।चौथे चरण के मतदान वाली प्रमुख सीटों में बिहार की दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय और मुंगेर और उत्तर प्रदेश की शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, हरदोई, मिश्रिख, उन्नाव, फरुखाबाद, इटावा, कन्नौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन, झांसी और हमीरपुर सीटें शामिल हैं।इसके अलावा राजस्थान की उदयपुर, सवाई माधौपुर, कोटा, बांसवाड़ा, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, जालौर और झालावाड़ शामिल हैं। चौथे चरण के लिए अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन शुरू हो गया है। अधिसूचना के अनुसार, नामांकन की अंतिम तारीख नौ अप्रैल है जबकि नामांकन पत्रों की जांच दस अप्रैल को होगी। नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 12 अप्रैल है और मतदान 29 अप्रैल को होगा।

दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाAaj Ka Panchang 21 August 2022: जानिए रविवार का पंचांग, राहुकाल, शुभ मुहूर्त और सूर्योदय-सूर्यास्त का समय******आज भाद्रपद कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि और रविवार का दिन है।दशमी तिथि आज का पूरा दिन पार कर के देर रात 3 बजकर 35 मिनट तक रहेगी। आज रात 10 बजकर 39 मिनट तक हर्षण योग रहेगा। साथ ही आज का पूरा दिन मृगशिरा नक्षत्र रहेगा। इसके अलावा आज दोपहर 2 बजकर 21 मिनट से देर रात 3 बजकर 35 मिनट तक स्वर्ग लोक की भद्रा रहेगी। आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए रविवार का पंचांग,राहुकाल, शुभ मुहूर्त और सूर्योदय-सूर्यास्त का समय।दिल्लीमेंखुलेंगेस्कूलकॉलेजनाइटकर्फ्यूमेंएकघंटेकीकमीजानेंDDMAकीबैठकमेंक्याहुआफैसलाAnupamaa: शो में ट्विस्ट लाने के चक्कर में फंस गए 'अनुपमा' के मेकर्स! कर बैठे इतनी बड़ी भूल******Highlightsरुपाली गांगुली (Rupali Ganguly) और गौरव खन्ना स्टारर फेमस टीवी शो अनुपमा (Anupamaa) की कहानी बहुत दुख भरे मोड़ पर आ चुकी है। अनुज कपाड़िया (Gaurav Khanna) और वनराज शाह (Sudhanshu Pandey) के खाई में गिरने के बाद अनुज कोमा में है। इस कहानी को थोड़ा सा आगे बढ़ाने के लिए मेकर्स ने 13 दिन का लीप लाने का फैसला लिया। लेकिन इस बीच वह एक बड़ी भूल कर बैठे हैं।दरअसल, मेकर्स ने इस शो में हाई वोल्टेज ड्रामा बरकरार रखने के लिए मेकर्स ने अब वनराज और कपाड़िया परिवार के बीच एक बड़ा विवाद खड़ा किया है। वह ये है कि सबको लगता है कि वनराज ने ही अनुज का धक्का दिया था। इस बात का फायदा बरखा खूब अच्छे से उठा रहे हैं। इन दिनों में कहानी में दिखाया गया कि वनराज को होश आ गया है, लेकिन अनुज कोमा में है और पता नहीं कब तक उसे होश नहीं आएगा। दोनों को हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई है।शो में लीप लाने के चक्कर में शो के मेकर्स से इतनी बड़ी गलती हो गई कि इसे जानकर आप भी शॉक्ड हो जाएंगे। हम जानते हैं कि इस एक्सीडेंट के पहले किंजल की प्रेग्नेंसी के दिन पूरे होने की बात चल रही थी। बताया जा रहा था कि कभी भी डिलिवरी हो सकती है। लेकिन अब एक्सीडेंट के बाद लंबे समय तक अनुज और वनराज एडमिट रहे और फिर अब 13 दिन का लीप भी हो गया। फिर अब 4 दिन और बीत गए। लेकिन किंजल की डिलिवरी अब भी नहीं हुई है।हालांकि कुछ कहा नहीं जा सकता कि मेकर्स ने किंजल की डिलिवरी को सोचकर कुछ प्लान किया हो या फिर वह यह दिखा दें कि किंजल की डिलिवरी 10वें महीने में हो रही है या फिर वह कुछ दिन के लिए किंजल को उसकी मां राखी दवे के घर भेजकर सीधे बच्चे के साथ उसकी वापसी कराएं।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-07 00:14
उद्धरण 1 इमारत
हो गया खुलासा रवि शास्त्री और सुनील गावस्कर की वजह से पाकिस्तान ने जीती चैंपियंस ट्रॉफी !****** 18 जून 2017 को पाकिस्तान नेके फाइनल मुकाबले में डिफेंडिंग चैंपियन भारत को हराकर खिताब अपने नाम किया। लेकिन अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर 4 महीने बाद हम इसकी चर्चा क्यों कर रहे हैं, तो चलिए आपके लिए हम इसका खुलासा कर ही देते हैं। कहा जा रहा है कि पाकिस्तानी टीम की जीत के पीछे सुनील गावस्कर और रवि शास्त्री का हाथ था। जी हां पाकिस्तानी टीम के मैनेजर तलत अली मलिक ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि उन्होंने फाइनल मैच से पहले गावस्कर और रवि शास्त्री का बयान पाकिस्तानी टीम को सुनाया। जिसमें दोनों दिग्गज ये दावा कर रहे थे कि पाकिस्तान की टीम फाइनल जीतने लायक नहीं है।तलत अली ने बताया कि ‘टीम इंडिया से हमारा फाइनल मैच था। मैंने रवि शास्त्री और सुनील गावस्कर का बयान सुना, जिसमें दोनों ने पाक को जीत का दावेदार नहीं माना। मैंने ये वीडियो अपनी टीम को दिखाया, जिससे बाद टीम में जोश आ गया। खिलाड़ियों ने फैसला किया कि वो जुबान से नहीं बल्कि अपने प्रदर्शन से टीम इंडिया और इन दिग्गजों को जवाब देंगे।’फाइनल मैच में पाकिस्तानी टीम ने ऐसा ही किया। फाइनल में पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तानी टीम ने 4 विकेट पर 338 रनों का विशाल स्कोर बनाया। फखर जमां ने 114 और अजहर अली ने 59 रन बनाए। बाबर आजम ने भी 46 रन की पारी खेली। जवाब में भारतीय टीम सिर्फ 158 रन पर ऑल आउट हो गई और 180 रन के बड़े अंतर से मैच हार गई।
2022-10-06 23:09
उद्धरण 2 इमारत
Sarkari Naukri: DRDO में निकलने वाली है बंपर भर्ती, 10वीं पास कर सकेंगे आवेदन; मिलेगी इतनी सैलरी******Highlightsडिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO), सेंटर फॉर पर्सनेल टैलेंट मैनेजमेंट (CEPTAM) जल्द ही अलग-अलग पदों की भर्ती के लिए CEPTAM 10 DRTC (डिफेंस रिसर्च टेक्निकल कैडर) के लिए नोटिफिकेशन जारी करेगा। DRDO CEPTAM 10 DRTC नोटिफिकेशन आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की जाएगी। इच्छुक उम्मीदवारों को निर्धारित समय अवधि के भीतर डीआरडीओ की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन करना होगा। आवेदन पूरा होने के बाद उम्मीदवारों के चयन के लिए डीआरडीओ प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीनियर टेक्निकल असिस्टेंट-बी (एसटीए-बी) और टेक्निशियन-ए (टेक-ए) के पदों पर भर्ती की जाएगी।Senior Technical Assistant - उम्मीदवारों के पास साइंस में ग्रेजुएशन की डिग्री या इंजीनियरिंग या टेक्नोलॉजी या कंप्यूटर विज्ञान या संबद्ध विषयों में डिप्लोमा होना चाहिए।टेकनीशियन ए - किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या संस्थान से 10 वीं पास समकक्ष, और किसी मान्यता प्राप्त औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान आईटीआई से प्रमाण पत्र होना चाहिए।सीनियर टेक्निकल असिस्टेंट - 7वें सीपीसी पे मैट्रिक्स और अन्य लाभों के अनुसार पे मैट्रिक्स लेवल-6 के मुताबिक सैलरी 35400 से 112400 रुपये महीना तक।टेकनीशियन A -7 वें सीपीसी पे मैट्रिक्स और अन्य लाभों के अनुसार वेतन मैट्रिक्स लेवल 2 में 19900 से लेकर 63200 रुपये महीना तक सैलरी मिलेगी।कैंडिडेट की आयु कम से कम 18 साल होनी चाहिए। वहीं अधिकतम आयु सीमा 28 साल रखी गई है।उम्मीदवारों के फाइनल सिलेक्शन की रिकमंडेशन CEPTAM द्वारा प्रयोगशालाओं/प्रतिष्ठानों में संबंधित नियुक्ति प्राधिकारियों को भेजी जाती है, जो प्रमाणपत्रों/दस्तावेजों आदि के सत्यापन समेत सभी अपेक्षित पूर्व-नियुक्ति औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद चयनित उम्मीदवारों को नियुक्ति का प्रस्ताव जारी करते हैं। CEPTAM उम्मीदवारों को उनके प्रोविजनल सिलेक्शन के बारे में भी सूचित करता है।
2022-10-06 23:02
उद्धरण 3 इमारत
Milk Price Hike: Amul और Mother Dairy ने दिया जोर का झटका, एक बार फिर इतने रुपये महंगा किया दूध, ये है नई रेट लिस्ट******HighlightsMilk Price Hike:दूध की कीमतों ने एक बार फिर से आम आदमी को झटका दिया है। देश की दो प्रमुख दुग्ध कंपनी अमूल और मदर डेयरी ने दूध की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर का इजाफा कर दिया है। बढ़ी हुई कीमतें 17 अगस्त बुधवार से लागू होंगे।मदर डेयरी ने दिल्ली-एनसीआर में दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है। मदर डेयरी ने मार्च में दिल्ली-एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में दूध की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। मदर डेयरी दिल्ली-एनसीआर बाजार में अग्रणी दूध आपूर्तिकर्ताओं में से एक है और पॉली पैक और वेंडिंग मशीनों के माध्यम से प्रति दिन 30 लाख लीटर से अधिक की बिक्री करती है।मदर डेयरी के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि कंपनी 17 अगस्त, 2022 से दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर की वृद्धि करने के लिए ‘‘बाध्य’’ है। नई कीमतें सभी दूध के पैक पर लागू होंगी।गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ (GCMMF) ने भीअपने गोल्ड, ताजा और शक्ति दूध ब्रांड की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर की वृद्धि की है। अमूल ने आधिकारिक बयान में कहा कि जीसीएमएमएफ ने गुजरात के अहमदाबाद और सौराष्ट्र क्षेत्रों, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिम बंगाल, मुंबई और अन्य बाजारों में दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर की वृद्धि करने का फैसला किया है।पिछले पांच माह में कंपनी की लागत में काफी वृद्धि हुई है।किसानों से दूध की खरीद की लागत 10-11 प्रतिशत बढ़ गई है।। इसी तरह, गर्मी मौसम के लंबा खिंचने के कारण मवेशियों के चारे की लागत में भी उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है। Mother Dairy के अधिकारी के अनुसार, किसानों से खरीद की लागत में हुई वृद्धि का आंशिक बोझ ही उपभोक्ताओं पर डाला जा रहा है। कंपनी बिक्री से होने वाली कमाई का लगभग 75-80 प्रतिशत किसानों से दूध खरीदने पर करती है।इससे पहले दोनों दूध कंपनियों इसी साल मार्च में भी कीमतेंबढ़ा चुकी हैं। 6 मार्च से लागू हुई बढ़ोत्तरी के बाद कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर का उछाल आया था। जिसके बाद फुल क्रीम दूध 57 से बढ़कर 59 रुपये हो गया था।
वापसी